Live

प्रदीप पाण्डेय की रिपोर्ट ।।

 यूपी गोंडा  : इटियाथोक कसबे में जागरूकता कार्यक्रम द्वारा छात्र छात्राओ को चाइल्ड हेल्पलाइन के महत्व के बारे में शुक्रवार को बिस्तार से बताया गया। सरकार द्वारा चलाए जा रहे विभिन्न हेल्पलाइन नंबरों के बारे में क्षेत्रों में जागरूकता कार्यक्रम आयोजित कर उनके सम्बन्ध में छात्र छात्राओं को खाश जानकारियां दी जा रही है।

    इसी क्रम में महत्वपूर्ण हेल्पलाइन नंबर 1098 है जो की 18 वर्ष आयु तक के बच्चों को मुसीबत में फंसे होने पर तत्काल उनकी और परिजनों की सहायता करती है। इटियाथोक कसबे के कृषक बालिका इंटर कॉलेज में शुक्रवार को इसी को लेकर जागरूकता एवं उन्मुखीकरण का कार्यक्रम आयोजित हुवा। 

          कार्यक्रम के मुख्य अतिथि न्यायपीठ एवं बाल संरक्षण कल्याण समिति सदस्य गोण्डा सैय्यद कासिम हुसैन रहे। उन्होंने सभी को संबोधित करते हुए बाल सुरक्षा एवं बाल अधिकार के बारे में विस्तृत जानकारी दी। बताया की सरकार द्वारा चलाई जा रही महत्वपूर्ण चाइल्ड हेल्पलाइन नंबर 1098 पर डायल करके 1 वर्ष से 18 वर्ष के बच्चे मुसीबत में अगर कहीं फंसे हो तो बच्चों के लिए सहयोग लिया जा सकता है। कहा की यह बच्चों के लिए वरदान साबित होने वाली हेल्पलाइन है।

कहा की चाइल्डलाइन के माध्यम से खोए हुए अनेक बच्चों को अबतक अपनों से मिलाया गया है। उक्त कार्यक्रम में इटियाथोक कोतवाली के उपनिरीक्षक संजीव चौहान ने बच्चों को समृद्ध बाल सुरक्षा, बाल सुरक्षा के अधिनियम व आत्मरक्षा के तरीके सिखाए। उन्होंने कहा की छात्राएं निडर होकर मुश्किल का सामना करें और पुलिस उनके सहायता के लिए 24 घंटे सदैव तत्पर है।

कार्यक्रम का संचालन सबसेंटर हेड के प्रभारी बृजभूषण यादव ने की। इस दौरान महिला कांस्टेबल इंदु यादव, किरण भारती, उर्वशी वर्मा सहित प्रधानाध्यापिका दीप्ति यादव, सुमन यादव, साधना तिवारी, चाइल्डलाइन टीम मेंबर नारायणी, अखिलेश कुमार, शैलेंद्र कुमार सिंह, बृजेश यादव एवं उक्त विद्यालय के कई शिक्षक उपस्थित रहे।।


Advertisements

Posted by : Pawan Kumar

Follow On :


जरूर पढ़ें

Stay Connected