Live

अश्वनी कुमार की रिपोर्ट।।

दरभंगा : ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय में आउटसोर्स कर्मचारियों ने दूसरे दिन भी अपना संघर्ष जारी रखा। कर्मचारियों ने गुरूवार को धरना देकर अपनी मांगों के समर्थन में आवाज बुलंद की। वहीं दूसरी ओर आउटसोर्स कर्मचारियों के समर्थन में कई अधिषद् और अभिषद् सदस्य धरनास्थल पर पहुंचे। धरनार्थी लगातार विश्वविद्यालय के अधिषद् और अभिषद् की बैठक में 11 माह पूर्व लिये गये निर्णय को लागू करने की मांग कर रहें हैं। धरनास्थल पर अभिषद् सदस्य सह समाजशास्त्र विभागाध्यक्ष प्रो. विनोद कुमार चौधरी, डॉ. बैद्यनाथ चौधरी बैजू, अधिषद् सदस्य जदयू नेता डॉ. अंजीत कुमार चौधरी, पूर्व विभागाध्यक्ष डॉ. के. सी. सिंह, छात्र संघ महासचिव उत्सव परासर, आशुतोष गौरव एवं बिहार प्रदेश विश्वविद्यालय कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष शंकर यादव ने अपना समर्थन दिया। इसके साथ ही सभी लोगों ने धरना पर उपस्थित होकर विश्वविद्यालय कर्मचारियों की कार्यो की उपलब्धि पर आभार प्रकट किया तथा सभी कर्मचारियों के मांग को सही ठहराते हुए उनलोगों ने कहा कि जब तक आप सभी आउटसोर्स कर्मियों को उचित न्याय नहीं मिलता है तब तक हम साथ नहीं छोड़ेगें। इनलोगों ने अधिषद् और अभिषद् के निर्णय को लागू करने की मांग का समर्थन करते हुए आउटसोर्स कर्मचारियों को संविदा में स्थान देने की बात कही है। दूसरी ओर विश्वविद्यालय के उप-कुलसचिव-प्रथम डॉ. राजीव कुमार, परीक्षा नियंत्रक डॉ. अशोक कुमार मेहता धरनास्थल पर विश्वविद्यालय का प्रतिनिधित्व करते हुए वार्ता करने पहुंचे, धरनार्थियों के अनुसार वार्ता विफल रही। धरनास्थल पर मनीष कुमार, प्रणव कुमार, धीरज चौहान, ज्ञान वर्मा, श्रवण झा, इम्तियाज, फैजान अली, चिंता देवी आदि मौजूद थे।।


Advertisements

Posted by : Pawan Kumar

Follow On :


जरूर पढ़ें

Stay Connected